बिहार

पटना विश्वविद्यालय के अतीत के याद में राजधानी में दौड़ का आयोजन, उमड़ा युवा हुजूम

पटना विश्वविद्यालय के गौरवशाली अतीत के स्मरण के लिए रविवार को राजधानी के लोग दौड़े। हज़ारों की संख्या में लोगों ने दौड़ में भाग लिया। अशोक राजपथ पर उमड़ी भीड़ बता रही थी कि अपने संस्थान ऐतिहासिक पटना विवि से लोगों को कितना लगाव है। विवि के व्हीलर सीनेट हॉल गेट से सुबह 6.30 बजे शताब्दी दौड़ की शुरुआत हुई।
दौड़ की शुरुआत शिक्षा मंत्री कृष्णनंदन वर्मा और कुलपति प्रो रास बिहारी सिंह ने किया। बड़ी संख्या में छात्र छात्राये दौड़ में भाग ले रहे थे। करीब 7.30 बजे दौड़ का समापन करगिल चौक के पास हुआ। पीयू कुलपति रास बिहारी सिंह ने कहा कि पटना विवि के गौरव को वापस लौटाने के लिए शताब्दी दौड़ का आयोजन किया गया है।
पीयू देश के सबसे पुराने विश्व विद्यालयों में से एक है। यह गौरव का विषय है कि देशभर में जहाँ जहाँ सफल लोग हैं वहाँ पीयू से पढ़े छात्र मिल जायेंगे। दौड़ में पूर्व शिक्षा मंत्री अशोक चौधरी, जदयू प्रवक्ता संजय सिंह, एमएलसी नीरज कुमार, श्याम रजक, एन ओ यू के कुलपति, पूटा अध्यक्ष, सभी कॉलेज के प्रिंसिपल, डीन सहित बड़ी संख्या में पूर्ववर्ती छात्र शामिल थे। इस ऐतिहासिक पल के हजारों लोग गवाह बने।
अशोक राजपथ पर पीयू से करगिल चौक तक 4 तोरणद्वार बनाये गए थे। इन पर पीयू शताब्दी समारोह का लोगो लगाया गया था। दौड़ में एनसीसी और एनएसएस के छात्रों का उत्साह देखते बन रहा था।

About the author

Related Posts

Leave a Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published.